Home World अफगानिस्तान लगातार दूसरे दिन भूकंप से दहला: रिक्टर स्केल पर 4.3 तीव्रता...

अफगानिस्तान लगातार दूसरे दिन भूकंप से दहला: रिक्टर स्केल पर 4.3 तीव्रता मापी गई, जानिए इस इलाके में क्यों आते हैं इतने भूकंप


  • Hindi News
  • International
  • Afghanistan Earthquake Updates; Faizabad | 1000 Killed, 1500 Injured After An Earthquake In Afghanistan

21 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

अफगानिस्तान को लगातार दूसरे दिन भूकंप के दूसरे बड़े झटके का सामना करना पड़ा है। गुरुवार सुबह यानी आज अफगानिस्तान के कुछ हिस्सो में 4.3 तीव्रता का भूकंप महसूस किया गया। हालांकि, इसमें अभी तक किसी जान माल के नुकसान की खबर नहीं है।

नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी बताया की भूकंप का केंद्र अफगानिस्तान फैजाबाद से 76 किलोमीटर दूर था। इससे पहले बुधवार को पूर्वी अफगानिस्तान में आए भूकंप की वजह 1000 लोगों की मौत हुई थी, जबकि 1500 से ज्यादा घायल हो गए थे।

जानिए क्यों अशांत रहता है यह इलाका
करीब चार करोड़ वर्ष पहले भारतीय उपमहाद्वीप यूरेशियाई प्लेट से टकराया था। इसकी वजह से हिमालय पर्वत का निर्माण हुआ। यह पर्वत आज भी हर साल एक सेमी ऊपर ऊंचा उठ रहा है। इसी हलचल के कारण अक्सर यहां भूकंप आते हैं।

इसके अलावा लगातार टक्कर से परतों की दबाव सहने की क्षमता खत्म होती जाती हैं। परतें टूटने के साथ उसके नीचे मौजूद ऊर्जा बाहर आने का रास्ता खोजती हैं। इस वजह से हिमालय क्षेत्र में भूकंप आता है। अफगानिस्तान, पाकिस्तान और उत्तर भारत का कुछ हिस्सा हिमालयी रेंज में आता है। इस वजह यहां हमेशा भूकंप का खतरा बना रहता है।

अफगानिस्तान में भूकंप से 1000 लोगों की मौत, 1500 घायल; पाकिस्तान में भी झटके महसूस किए गए

दुनिया में हर साल 20000 हजार भूकंप आते हैं…
हर साल दुनिया में कई भूकंप आते हैं, लेकिन इनकी तीव्रता कम होती है। नेशनल अर्थक्वेक इंफोर्मेशन सेंटर हर साल करीब 20,000 भूकंप रिकॉर्ड करता है जिसमें से 100 भूकंप ऐसे होते हैं जिनसे नुकसान होता। भूकंप कुछ सेकेंड या कुछ मिनट तक रहता है, लेकिन अब तक के इतिहास में सबसे ज्यादा देर तक रहने वाला भूकंप 2004 में हिंद महासागर में आया था। यह भूकंप 10 मिनट तक रहा था।

बुधवार को आए भूकंप को देखते हुए ताबिबान ने कैबिनेट की इमेरजेंसी मीटिंग बुलाई थी। सरकार के प्रवक्ता का कहना है कि भूकंप से प्रभावित लोगों की मदद करने के अलावा, सभी इमरजेंसी संगठनों को बचाव दल भेजने का काम सौंपा गया था।

खबरें और भी हैं…



Source link

RELATED ARTICLES

“उत्तराखंड की तरह सभी राज्यों को समान नागरिक संहिता कानून बनाना चाहिए”: CM पुष्कर धामी

उत्तराखंड में समान नागरिक संहिता लागू करने को पूर्व न्यायाधीश रंजन देसाई की अध्यक्षता में समिति का गठन हुआ हैदेहरादून: उत्तराखंड (Uttarakhand) के मुख्यमंत्री...

डॉलर के मुकाबले रुपया 12 पैसे मजबूत

शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार विदेशी संस्थागत निवेशक पूंजी बाजार से निकासी जारी रखे हैं.मुंबई: रुपये में पिछले पांच कारोबारी सत्रों से...

प्रियांशु के लिए फरिश्ता बने एक्टर सोनू सूद: 11 साल की बच्ची को इलाज के लिए मुंबई बुलाया, एक पैर से विद्यालय जाने को...

सीवान13 मिनट पहलेअपने परिवार के साथ बच्ची।एक्टर सोनू सूद एक बार फिर फरिश्ता बनकर सामने आए है। सीवान में एक पैर से 2...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

“उत्तराखंड की तरह सभी राज्यों को समान नागरिक संहिता कानून बनाना चाहिए”: CM पुष्कर धामी

उत्तराखंड में समान नागरिक संहिता लागू करने को पूर्व न्यायाधीश रंजन देसाई की अध्यक्षता में समिति का गठन हुआ हैदेहरादून: उत्तराखंड (Uttarakhand) के मुख्यमंत्री...

डॉलर के मुकाबले रुपया 12 पैसे मजबूत

शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार विदेशी संस्थागत निवेशक पूंजी बाजार से निकासी जारी रखे हैं.मुंबई: रुपये में पिछले पांच कारोबारी सत्रों से...

प्रियांशु के लिए फरिश्ता बने एक्टर सोनू सूद: 11 साल की बच्ची को इलाज के लिए मुंबई बुलाया, एक पैर से विद्यालय जाने को...

सीवान13 मिनट पहलेअपने परिवार के साथ बच्ची।एक्टर सोनू सूद एक बार फिर फरिश्ता बनकर सामने आए है। सीवान में एक पैर से 2...

घर के सामने खड़ी बाइक फूंका: दो परिवार में था विवाद, थाने में FIR के लिए दिया गया आवेदन, पुलिस कर रही छानबीन

Hindi NewsLocalBiharBuxarThere Was A Dispute Between Two Families, The Application For FIR Was Given In The Police Station, The Police Is Investigatingबक्सरएक घंटा...

Recent Comments