Home India Vice-President Election: क्या वेंकैया नायडू से भी बड़ी जीत की ओर बढ़...

Vice-President Election: क्या वेंकैया नायडू से भी बड़ी जीत की ओर बढ़ चुके हैं जगदीप धनखड़?


उपराष्ट्रपति चुनावः NDA उम्मीदवार जगदीप धनखड़

नई दिल्ली :

देश में उपराष्ट्रपति पद के लिए कल सुबह दस बजे से शाम पांच बजे तक संसद भवन में मतदान होगा. लोकसभा के 543 और राज्यसभा के 245 सांसदों को मिलाकर 788 सांसदों का निर्वाचन मंडल बनता है. अभी लोकसभा में 543 सांसद हैं, जबकि राज्यसभा में 8 सीटें खाली हैं. यानी निर्वाचन मंडल 780 सांसदों का है . तृणमूल कांग्रेस ने मतदान से दूर रहने का फैसला किया है. उसके 36 सांसद हैं. इस तरह 744 सांसद मतदान में हिस्सा लेंगे. अगर सभी 744 सांसद मतदान करते हैं तो बहुमत का आंकड़ा 372 रहेगा.

यह भी पढ़ें

बीजेपी के अपने 394 सांसद है. यानी पार्टी अकेले ही जगदीप धनखड़ को जितवा सकती है. एनडीए के 441 सांसद हैं, जबकि पांच मनोनीत भी बीजेपी के साथ हैं. इस तरह धनखड़ के 446 वोट हो जाते हैं. 

जगदीप धनखड़ को एनडीए के अलावा बीजेडी, वायएसआरसी, बीएसपी, टीडीपी, अकाली दल और शिवसेना शिंदे गुट का समर्थन हासिल है. इनके 81 सांसद हैं.  अन्य दलों के समर्थन से धनखड़ के वोट 527 तक पहुंच जाएंगे जो जीत के लिए आवश्यक 372 से काफी अधिक है. अगर निर्वाचन मंडल में प्रतिशत के हिसाब से देखें तो यह आंकड़ा करीब 70 प्रतिशत होता है. पिछले उपराष्ट्रपति चुनाव में एम वेंकैया नायडू को करीब 68 प्रतिशत वोट मिले थे. यानी इस बार धनखड़ नायडू को भी पीछे छोड़ सकते हैं. 

वहीं, यूपीए की उम्मीदवार मार्गरेट अल्वा की बात करें तो उन्हें कांग्रेस, डीएमके, आरजेडी, एनसीपी और समाजवादी पार्टी के 139 वोट मिलने तय हैं. इसके अलावा राष्ट्रपति चुनाव में एनडीए का साथ देने वाले जेएमएम ने भी अल्वा को समर्थन दिया है. टीआरएस और आम आदमी पार्टी ने भी अल्वा को वोट देने का फैसला किया है. इन तीनों दलों के 29 सांसद हैं. शिवसेना उद्धव गुट के 9 सांसद भी अल्वा के पक्ष में हैं. यानी, अल्वा के पक्ष में 177 वोट हैं जो करीब 24 प्रतिशत होता है. पिछले चुनाव में विपक्ष के उम्मीदवार गोपालकृष्ण गांधी को 32 प्रतिशत वोट मिले थे. 

मार्गरेट अल्वा को लेफ्ट फ्रंट व अन्य विपक्षी दलों को मिला कर 23 और वोट मिल सकते हैं. इस तरह उनकी संख्या 200 तक पहुंच सकती है। यह 26 प्रतिशत के करीब है. 

ये भी पढ़ें-

ये भी देखें-कैसे धक्का देकर प्रियंका गांधी को दिल्ली पुलिस ने हिरासत में लिया



Source link

RELATED ARTICLES

यूपी : ट्रक चालक ने महिला को दिया लिफ्ट.. फिर शुरू कर दी छेड़खानी, विरोध करने पर किया ऐसा

लोगों ने पुलिस को सूचना दी और महिला को अस्पताल में भर्ती कराया. इसके बाद ट्रक... Source link

यूपी : ट्रक चालक ने महिला को दिया लिफ्ट.. फिर शुरू कर दी छेड़खानी, विरोध करने पर किया ऐसा

लोगों ने पुलिस को सूचना दी और महिला को अस्पताल में भर्ती कराया. इसके बाद ट्रक... Source link

नीति आयोग की बैठक में गैर BJP शासित राज्यों ने केंद्र से ये रखी मांग, कहा – ‘फैसलों को ना थोपें’

रविवार को हुई नीति आयोग की बैठक में कुछ गैर बीजेपी शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने केंद्र से कहा कि वह अपनी नीतियों...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

यूपी : ट्रक चालक ने महिला को दिया लिफ्ट.. फिर शुरू कर दी छेड़खानी, विरोध करने पर किया ऐसा

लोगों ने पुलिस को सूचना दी और महिला को अस्पताल में भर्ती कराया. इसके बाद ट्रक... Source link

यूपी : ट्रक चालक ने महिला को दिया लिफ्ट.. फिर शुरू कर दी छेड़खानी, विरोध करने पर किया ऐसा

लोगों ने पुलिस को सूचना दी और महिला को अस्पताल में भर्ती कराया. इसके बाद ट्रक... Source link

नीति आयोग की बैठक में गैर BJP शासित राज्यों ने केंद्र से ये रखी मांग, कहा – ‘फैसलों को ना थोपें’

रविवार को हुई नीति आयोग की बैठक में कुछ गैर बीजेपी शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने केंद्र से कहा कि वह अपनी नीतियों...

पांच बड़े कारण जिसकी वजह से बीजेपी के आमने-सामने हैं नीतीश कुमार

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मंगलवार को अपनी पार्टी जनता दल... Source link

Recent Comments